काबुल 26 मई के साथ शांति वार्ता को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से ने मंगलवार को 900 तालिबानी कैदियों के एक जत्थे को रिहा कर दिया।

की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता जावेद फैसल ने ट्वीट कर इस बात की पुष्टि की है।

श्री फैसल ने ट्वीट किया, “ सरकार ने युद्ध विराम लागू करने तथा अंतर-अफगान शांति वार्ता को तत्काल शुरू करने के उद्देश्य से अपने शांति प्रयासों के तहत मंगलवार को 900 तालिबानी कैदियों के एक जत्थे को रिहा कर दिया।”

अफगान सरकार ने रिहा किए 900 तालिबानी कैदी

इससे पहले तालिबान की ओर से ईद-उल-फितर के अवसर पर रविवार को तीन दिन के युद्ध विराम की घोषणा की गयी थी। तालिबानी आतंकवादी इस युद्ध विराम को अगले चार अथवा उससे अधिक दिनों के लिए बढ़ाने को लेकर सहमत हो गए हैं।

सरकार ने सोमवार को भी पूर्वी परवान प्रांत की जेल में बंद 100 तालिबानी कैदियों को रिहा किया था।

इससे पहले दोनों ओर से 10 मई को एक हजार तालिबानी कैदियों और 200 अफगान सैनिकों को रिहा किया गया था।

गौरतलब है कि कतर की राजधानी दोहा में इस वर्ष 29 फरवरी को अमेरिका-तालिबान के बीच हुए समझौते के तहत करीब पांच हजार तालिबानी कैदियों को छोड़ने पर सहमति बनी थी। हालांकि, अफगान सरकार ने इस समझौते पर हस्ताक्षर नहीं किए थे।

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति मोहम्मद अशरफ गनी ने 11 मार्च को एक डिक्री (सरकारी आदेश) पर हस्ताक्षर कर पैरोल पर पांच हजार तालिबानी कैदियों को रिहा करने की घोषणा की थी। इसके जवाब में तालिबान ने भी एक हजार अफगान सैनिकों को रिहा करने पर सहमति जताई थी।