ने अमेरिकी द्वारा लगाए गए आरोपों का करारा जवाब दिया है।

WHO

के प्रमुख टेड्रॉस गेब्रीस ने महामारी का राजनीतिकरण न करने का सुझाव देते हुए कहा कि covid -19 राजनीतिकरण न करे हमें एक दूसरे की कमियों को खोजने के लिए समय बर्बाद नहीं करना चाहिए। उन्होंने उल्लेख किया कि यह आग से खेलने जैसा है…हमें सावधानी रखने की जरुरत … हमें सतर्क रहना चाहिए।

जेनेवा में एक प्रेस सम्मेलन के दौरान, टेडरोस ने उल्लेख किया कि कोरोना वायरस का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए।अभी जरूरत है कि हम सब साथ मिलकर काम करें। अगर हम नहीं सुधरे, तो हमारे सामने और ज्यादा ताबूत रखे होंगे।

ट्विटर

इस समय, चीन और संयुक्त राज्य को कोरोना वायरस के विरोध में सामूहिक रूप से मुकाबला करने के लिए काम करना चाहिए था। निर्देशक ने उल्लेख किया कि देशव्यापी और अंतर्राष्ट्रीय डिग्री पर पूरी तरह से दरारें वायरस और एक संक्रमण को लाभदायक बनाती हैं। उन्होंने उल्लेख किया कि भगवान के लिए, हमें दुनिया के 60 हजार लोग खो चुके हैं, हम क्या कर रहे हैं? अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं के लिए covid 19 का उपयोग नहीं करना चाहिये।

बता दें कि व्हाइट हाउस की प्रेस कॉन्फ्रेंस में ट्रंप ने WHO को फंडिंग बंद करने की धमकी देते हुए कहा था कि WHO ने कोरोना वायरस को रोकने के लिए कोई कारगर कदम नहीं उठाया। उन्होंने उल्लेख किया कि हम WHO पर खर्च की गई राशि को रोकने जा रहे हैं। जब हमने यात्रा पर प्रतिबंध लगाया, तो विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसकी आलोचना की। उन्होंने कोरोना एक संक्रमण के विषय में बहुत सारी गलतिया की हैं। उन्हें बीमारी के संबंध में पहले एक चेतावनी जारी करनी चाहिए थी।

आयुष मंत्रालय – कोरोना से बचने के आसान तरीके – क्लिक करे