वाशिंगटन, 02 जून (वार्ता) माइक पोम्पियो ने कहा है कि अफगान शांति वार्ता में अमेरिका का मुख्य लक्ष्य अफगानिस्तान में लोकतंत्र और स्थिरता लाना है एवं दोनों देशों के बीच रणनीतिक तथा दीर्घकालिक संबंध सुनिश्चित करना है।

श्री पोम्पियो ने अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बैठक में इस आशय की बात कही। साेमवार को हुई इस बैठक के दौरान दोनों नेताओं ने कैदियों की रिहाई और अन्य कदमों सहित शांति प्रक्रिया पर विस्तार से चर्चा की।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने कहा मुख्य लक्ष्य अफगानिस्तान में लोकतंत्र और स्थिरता लाना है !
ने कहा मुख्य लक्ष्य ं लोकतंत्र और स्थिरता लाना है !

श्री गनी ने देश में संघर्ष विराम और स्थिरता के लिए एक रोडमैप की रूपरेखा तैयार करने के महत्व पर बल दिया। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों की टीमों को निर्धारित लक्ष्यों को लागू करने के लिए संयुक्त प्रयासों को आगे बढ़ाना चाहिए।

श्री पोम्पियो ने अमेरिका और अफगानिस्तान के बीच सूचना के क्षेत्र में सहयोग की आवश्यकता पर जोर दिया। इस दौरान दोनों नेताओं ने आने वाले दिनों में आगे के विवरण पर काम करने पर सहमति व्यक्त की।

कई माह तक बातचीत के बाद इस वर्ष 29 फरवरी को अमेरिका तथा अफगानिस्तान में सक्रिय आतंकवादी संगठन तालिबान ने एक शांति समझौते पर हस्ताक्षर किये। इस समझौते के तहत अफगानिस्तान से विदेशी सेनाओं की वापसी तथा अंतर अफगान शांति वार्ता शुरू करना तथा दोनों पक्षों की ओर से कैदियों की रिहाई शामिल है।