: वॉशिंगटन में स्थिति भयावह होती जा रही है। कोरोना वायरस की चपेट में आकर देश में अब तक 3,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। करीब 1,65,000 लोग संक्रमित हैं। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि USA के लिए कोरोना से मुकाबले में अगले 30 दिन बेहद अहम होंगे। USA कोरोना संक्रमण के मामलों में चीन को पहले ही पीछे छोड़ चुका है। अब वह जल्द ही मौत के मामले में भी चीन से आगे हो जाएगा। चीन में कोरोना से 3,300 से ज्यादा लोगों की जान गई है। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, “चुनौतीपूर्ण समय आने वाला है। आगामी 30 दिन बेहद महत्वपूर्ण हैं।” ट्रंप ने एक दिन पहले सोशल डिस्टेंसिंग दिशा-निर्देशों को 30 अप्रैल तक बढ़ाने का एलान किया था। उन्होंने आने वाले दो हफ्तों में कोरोना के चलते मृत्युदर भयावह होने की भी आशंका जताई थी। ट्रंप ने बताया कि वेंटीलेटर समेत टेस्टिंग किट और फेस मास्क का उत्पादन बढ़ा दिया गया है। आने वाले दिनों में इनकी कमी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि हर किसी को मास्क पहनाने की संभावना पर भी गौर किया जा रहा है।
USA
33 करोड़ की आबादी वाले USA में नेशनल इमरजेंसी का एलान किया गया है। इसके अलावा दो दर्जन से ज्यादा राज्यों में लॉकडाउन समेत कई पाबंदियां लगाई गई हैं। इससे करीब 25 करोड़ आबादी घरों में कैद होकर रह गई है। USA में कोरोना वायरस को लेकर अब तक दस लाख से ज्यादा लोगों की जांच की जा चुकी है। दुनिया में इस समय USA की जांच दर सर्वाधिक है। इस देश में रोजाना की जांच दर बढ़कर एक लाख हो गई है। एक हजार बिस्तर वाला अमेरिकी नौसेना का हॉस्पिटल शिप सोमवार को न्यूयॉर्क पहुंचने पर लोगों ने खुशी जताई। इस पोत के स्वागत के लिए हडसन नदी के तट पर बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे। लोगों ने उम्मीद जताई कि महामारी से जूझ रहे न्यूयॉर्क को इस नौसैनिक पोत के आने से मदद मिलेगी। इस पोत पर चालक दल के करीब 1200 सदस्य हैं। USA में कोरोना के सर्वाधिक मामले इसी शहर में सामने आ रहे हैं।
कोरोना