लखनऊ। संवाददाता, इन्टर नेशनल बीमारी कोविड 19 कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देश मे लागू किए गए लाक डाउन का तीसरे चरण के लाक डाउन के 54 दिन पूरे होने के बाद नए रंग रूप वाला लाक डाउन का पहला चरण आज शुरू हो गया कुल मिला कर लाक डाउन मे रहते हुए जनता ने पूरे 55 दिन अब तक गुज़ार दिए लेकिन देश मे कोरोना वायरस के मामले है कि बढ़ते ही जा रहे है ।

पूरे देश मे पिछले 24 घण्टो के दौरान कोरोना वायरस के 5 हज़ार से भी ज़्यादा नए मामले प्रकाश मे आए है पूरे देश मे कोरोना के मरीज़ो की संख्या अब 1 लाख के करीब पहुॅचते हुए 96 हज़ार के पार हो चुकी है कोरोना की चपेट मे आने से पूरे देश मे अब तक 3 हज़ार 29 लोगो के मरने की खबर है।

राहत की खबर

कोरोना वायरस के मामलो मे देश मे सातवें नम्बर पर चल रहे उत्तर प्रदेश से राहत भरी खबर है उत्तर प्रदेश मे कल मरीजो की संख्या 42 सौ 58 थी पिछले 24 घण्टों मे सिर्फ एक मरीज़ की बढ़ोत्तरी हुई है उत्तर प्रदेश मे मरीज़ो संख्या आज 42 सौ 59 हो गई है। उत्तर प्रदेश मे कोरोना के कुल मरीज़ो के आधे से ज़्यादा मरीज़ 24 सौ 41 पूरी तरह से ठीक हुए है। चैथे चरण के लाक डाउन मे सरकार ने कई तरह की रियातते दी है लेकिन रेड ज़ोन होने की वजह से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अभी भी उसी तरह की संख्ती है जैसे पहले थी।

हालाकि लाक डाउन के चाौथे चरण के पहले दिन भी राजधानी मे कल की तरह के ही हालात नज़र आए यहा सड़को पर वाहन कल की तरह ही फर्राटे भरते देखे गए मुख्य बाज़ार पहले की तरह से ही पूरी तरह से बन्द रहे लेकिन आवश्यक वस्तुओ की दुकाने उसी तरह से गुलज़ार रही जैसे कल थी ।

राहत की खबर, लोकडाउन के 55 दिन पूरे यूपी से राहत की खबर 24 घण्टो मे मिला सिर्फ एक मरीज़
तस्वीर पर क्लिक करे – आगे पढ़े

सड़को पर फल और सब्ज़ियो के ठेलो की भरमार थी गली मोहल्लो और सड़को पर फल और सब्ज़ी के ठेलो पर भारी संख्या मे ग्राहक खरीदारी करते हुए देखे गए हालाकि लाक डाउन का 55वंा दिन शुरू होते ही लोगो के चहरे और ज़्यादा उतर गए लोगो को ये उम्मीद थी कि 17 मई के बाद उन्हे भले ही पूरी तरह से लाक डाउन से निजात न मिले लेकिन उनके कारोबार खुल जाएगे लेकिन राजधानी लखनऊ के रहने वाले लाखो लोगो को कारोबार का सुख नही मिला पाया ।

देश और समाज हित मे पूरे देश मे लागू किए गए लाक डाउन के बाद लाखो मज़दूरो के सामने जब पेट भरने के लिए रोटी की समस्या आई तो देश के कोने कोने मे रह रहे लाखो मज़दूर ट्रको , साईकिलो पर सवार होकर हज़ारो किलो मीटर की यात्रा पर किल पड़े इस बीच देखा गया कि हज़ारो मज़दूर ऐसे भी देखे गए जो मासूम बच्चो और गर्भवति महिलाओ के साथ सैकड़ो किलो मीटर की यात्रा पर पैदल ही निकल पड़े थे ।

तमाम प्रवासी मज़दूरो की रास्तो मे हुए दर्दनाक सड़क हादसो मे मौत की दिल दहला देने वाली खबरे आने के बाद सरकार जागी और असुरक्षित तरीके से यात्रा करने वाले प्रवासी मज़दूरो के लिए सैकड़ो की संख्या में बसे चलवाई और सरकार द्वारा प्रवासी मज़दूरो की मदद का सिलसिला लगातार जारी है।

प्रवासी मज़दूरो के लिए चलाई गई श्रमिक टेªने और यात्री टेªने भी चल रही है लेकिन बावजूद इसके अभी भी प्रवासी मज़दूर बीच रास्तों में फसे हुए है। केन्द्र सरकार द्वारा लाक डाउन फोर के एलान के बाद राज्यो ने गाईड लाईन जारी करते हुए जनता को बता दिया है कि चाौथे चरण के लाक डाउन मे जनता को क्या क्या रियायते दी गई है ।