उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने छात्र नेता सुधांशु बाजपेयी व उनके साथी आज आदर्श कारागार जेल में मुलाकात की। सुधांशु बाजपेयी और उनके साथी को भाजपा के दागी नेताओं के खिलाफ पोस्टर लगाने पर भाजपा सरकार ने अपनी तानाशाही का परिचय देते हुए जेल भेज दिया था। 


प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि सत्ता के दम पर भाजपा सरकार कंाग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं को डरा नहीं सकती। कंागे्रस का एक-एक कार्यकर्ता अत्याचारी भाजपा सरकार के खिलाफ लगातार संघर्षरत है। हम लड़ने वाले लोग हैं, लड़ेगे और जीतेंगे। प्रदेश में तानाशाही वाली सरकार है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने आप को न्याय पालिका से ऊपर मान रहे हैं। योगी आदित्यनाथ प्रदेश को संविधान से नहीं आर0एस0एस0 के विधान से चलाने की कोशिश कर रहे हैं। सरकार ने खुद पोस्टर लगाये और दावा कर रही है कि निजता के अधिकार का उल्लंघन नहीं हुआ। अब जबकि छात्र नेताओं द्वारा भाजपा के दागी मंत्रियों के खिलाफ पोस्टर लगे हैं तो उन पर कार्यवाही क्यों? मुख्यमंत्री के ऊपर कई आपराधिक दंगे के मुकदमे रहे हैं। जब आपके पोस्टर लगते हैं तो आपकी छटपटाहट सामने आ रही है। पुलिस ने प्रदेश सरकार की सह पर छात्रों पर कार्यवाही कर रही है। कंाग्रेस पार्टी इसे बर्दास्त नहीं करेगी। 


मुलाकात के दौरान लखनऊ नगर कंाग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मुकेश सिंह चैहान व इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ उपाध्यक्ष श्री अखिलेश यादव मौजूद रहे।