नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चक्रवात प्रभावित जिलों का दौरा करने और तबाह हो गए इलाकों के पुनर्निर्माण के लिए सहायता देने का आग्रह किया था। पीएम मोदी ने ममता बनर्जी की अपील को मानते हुए शुक्रवार को बंगाल और ओडिशा का दौरा करने की बात कही। पीएम मोदी 83 दिनों के बाद दिल्ली के बाहर जा रहे हैं।

दरअसल देश में कोरोना के कहर को देखते हुए देशभर में 25 मार्च से लॉकडाउन लगा हुआ है। इस दौरान पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही कई कार्यक्रमों में सिरकत की है, वे दिल्ली से बाहर नहीं गए।

ममता की, ममता की अपील पर बंगाल-ओडिशा दौरे पर PM मोदी
तस्वीर पर क्लिक करे आगे पढ़े


लॉकडाउन के पहले से बी पीएम मोदी दिल्ली से बाहर नहीं गए हैं तो ऐसे में आज पूरे 83 दिनों बाद पीएम मोदी दिल्ली से बाहर बंगाल और ओडिशा दौरे पर जा रहे हैं। इससे पहले गुरुवार को पीएम मोदी ने ट्वीट किया था कि मैंने चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ द्वारा पश्चिम बंगाल में मचाई गई तबाही के दृश्य देखा। इस चुनौतीपूर्ण समय में पूरा देश पश्चिम बंगाल के साथ एकजुटता से खड़ा है। राज्य के लोगों की अच्‍छी सेहत एवं खुशहाली की मंगल-कामना करता हूं। पीएम मोदी ने कहा था कि केंद्र राज्य सरकार की हरसंभव मदद करेगा। ममता बनर्जी ने कल प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा था कि बंगाल में हालात कापी खराब हैं। मैं पीएम मोदी से अपील करती हूं कि वो राज्य का दौरा करें।


ममता की इस अपील को पीएम मोदी ने भी झट से मान लिया और बंगाल के साथ ही ओडिशा का दौरा करने का फैसला लिया। बता दें कि बुधवार को पश्चिम बंगाल और ओडिशा में अम्फान तूफान ने दस्तक दी थी। 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार वाले अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भारी तबाही मचाई। चक्रवात अम्फान के कारण पश्चिम बंगाल में कम से कम 72 लोगों की मौत हो गई है तथा कई पुलों एवं अन्य इमारतों को भी काफी नुकसान पहुंचा है।