इस्लामाबाद : में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या मंगलवार को 1,865 तक पहुंच गई है। बाहर घूम रहे लोगों से घरो मे रहने के लिए कहा जा रहा है। ी स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के मुताबिक देश के पंजाब प्रांत में सबसे अधिक 652 मरीज हैं। इसके बाद सिंध में 627, खैबर-पख्तूनख्वा में 221, बलूचिस्तान में 153, गिलगित-बाल्टिस्तान 148, इस्लामाबाद में 58 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में कोरोना वायरस के 6 मामले हैं। इस बीमारी से पाकिस्तान में अब तक 25 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 52 ठीक हो गए है। अन्य 12 विभिन्न अस्पतालों में गंभीर स्थिति में भर्ती हैं।
, पाकिस्तान: कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,865 हुए, अब तक 25 लोगों की मौत
पाकिस्तान में अधिकारी लोगों को घरों के अंदर रहने और केवल आपात स्थिति के मामलों में बाहर जाने की अपील करके इस बीमारी को रोकने के लिए आगे बढ़ रहे हैं, लेकिन आम जनता पर अपील का कम प्रभाव पड़ा और कई शहरों में लोग घूमते हुए दिखाई दिए, जबकि सुरक्षा अधिकारी उन्हें उनके स्थानों पर वापस जाने के लिए मनाने की कोशिश करते रहे। पाकिस्तान में अधिकारी रोगियों के लिए अधिक स्थान की व्यवस्था करने में जुटे हैं। वैसे तो पाकिस्तान हमेशा से ही भारत को अपना दुश्मन मनाता रहा है मगर कई सारे काम वो भारत में आइडिया डेवलप होने के बाद उसकी देखादेखी ही करता है। बता दें कि भारत सरकार ने कुछ दिन पहले ही अपने यहां लॉकडाउन करके सभी यात्री ट्रेनों को निरस्त कर दिया है, इन ट्रेनों के बे़ड़ों का इस्तेमाल कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए किया जा रहा है। ऐसी कई ट्रेनों को मरीजों के आइसोलेशन वार्ड और आइसीयू में तब्दील किया जा चुका है।
अब भारत की देखादेखी ही पाकिस्तान ने भी अपने यहां बिजनेस क्लास और एयर कंडीशन स्लीपर कोचों को इसी तरह के मरीजों के इलाज के हिसाब से कनवर्ट करना शुरू कर दिया है। पाकिस्तान रेलवे ने 30 कोचों की पेशकश की है, जिन्हें आइसोलेशन वार्ड में बदला जा रहा है।
, पाकिस्तान: कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,865 हुए, अब तक 25 लोगों की मौत