पूरी दुनिया एक तरफ कोरोना वायरस के संकट से जूझ रही है, वहीं नॉर्थ कोरिया बैलेस्टिक मिसाइल दागने में लगा है। शनिवार को नॉर्थ कोरिया ने अपने पूर्वी तटीय इलाके में दो बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं। सियोल मिलिट्री की तरफ से कहा गया है कि नॉर्थ कोरिया ने दो छोटी दूरी के बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं। नॉर्थ कोरिया ने नॉर्थ प्योंगन प्रांत से जापान के सागर में दो बैलेस्टिक मिसाइल दागे हैं।

जापान के सागर को पूर्वी सागर के नाम से भी जाना जाता है। इस बारे में साउथ के जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने जानकारी दी है। हालांकि इस बारे में और ज्चादा जानकारी नहीं मिल पा रही है। साउथ कोरिया की तरफ से कहा गया है कि उनकी मिलिट्री इसी तरह के किसी दूसरे लॉन्च पर निगरानी रख रही है और अपनी तरफ से भी तैयारी रखी जा रही है। जापान के रक्षा मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि नॉर्थ कोरिया ने बैलेस्टिक मिसाइल की तरह कोई चीज छोड़ी है। इसके साथ ही कहा गया है कि जापान के क्षेत्र की ओर कोई चीज आती नहीं दिख रही है और न ही जापान के एक्सक्लूसिव इकोनॉमिक जोन की दिशा में कोई चीज दिखी है। बैलेस्टिक मिसाइल लॉन्च से ठीक पहले नॉर्थ कोरिया की एक न्यूज एजेंसी की तरफ से कहा गया कि कोरोना वायरस की महामारी के बावजूद नॉर्थ कोरिया 10 अप्रैल को अपने संसद की बैठक करेगा। एक हफ्ते पहले ही नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के साउथ कोरिया के राष्ट्रपति को एक खत लिखा था। इसमें उसने कोरोना वायरस से निपटने में मदद की पेशकश की थी। साउथ कोरिया में कोरोना वायरस के संक्रमण ने भयानक तबाही मचाई है। हालांकि सियोल में संक्रमण ज्यादा नहीं फैला है। वहीं नॉर्थ कोरिया की तरफ से कहा गया है कि उनके यहां संक्रमण का एक भी मामला सामने नहीं आया है।