: सरकार ने कोरोनावायरस (Coronavirus) से प्रभावित न हो ऐसे क्षेत्रों में (Non Covid-19 Areas) या कम से कम प्रभावित क्षेत्रों में 20 अप्रैल से शुरू होने वाली सेवाओं की एक और नई लिस्ट () जारी की है.

अब इस सूची (guidelines) में सेवाओं, कृषि एवं बागवानी कार्यो, तथा मछली पकड़ने वालो के लिए, वृक्षारोपण कार्यो की गतिविधियों (अधिकतम 50% श्रमिक के साथ चाय, कॉफी और रबर) और पशुपालन को शामिल किया गया है. आप को बता दे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने संक्रमन महामारी को काबू में करने के लिए और उससे बचने के लिए लॉकडाउन () की सीमा को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया था.

Guidelines के मुताबिक सूची में फाइनेंस एवं सामाजिक (social) सेवा क्षेत्र, तथा प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया जैसे संस्थानों और छोटे लॉज इत्यादि को भी रखा गया है. साथ ही, केंद्र सरकार ने चेतावनी दी है कि इन कार्रवाइयों (कार्यो) को मंजूरी देने का मतलब आम जनता के परेशानियों में कटौती करना है, हालांकि वर्तमान सुझावों का पूरी तरह पालन करना संभवत: तिरस्कृत होगा। अधिकारियों ने राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को कार्य, कार्यस्थलों और कारखानों के स्थानों में सामान्य कार्य प्रक्रिया के संबंध में निश्चित तैयारी करने का निर्देश दिया है।

guidelines, guidelines – news update : कृषि क्षेत्र तथा निजी दफ्तर और यह सेवाएं 20 अप्रैल से होंगी चालू
source by : twitter

इस guideline की सूची में महत्वपूर्ण कंपनियों के रूप में गैर-बैंकिंग वित्त फर्मों और सूक्ष्म वित्त प्रतिष्ठानों को संग्रहीत किया गया है। इसके अलावा, अनुसूचित जनजातियों द्वारा उत्पादित नारियल, मसाला, बांस और कोको के वृक्षारोपण और वन उपज को भी सूची में शामिल किया गया है। गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना के अनुसार, ग्रामीण क्षेत्रों में पानी प्रदान करने और स्वच्छता और ऊर्जा उपभेदों, दूरसंचार ऑप्टिकल फाइबर और केबल बिछाने की भी अनुमति दी जा सकती है।