नई दिल्ली, 08 जून केरल के मल्लपुर जिले के एक गांव में गर्भवती हथिनी की हुई निर्मम मौत का मामला शीर्ष अदालत पहुंच गया है, जिस पर जल्दी सुनवाई की संभावना है।


पेशे से वकील अवध बिहारी कौशिक ने याचिका दायर करके मामले की जांच अदालत की निगरानी में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) या विशेष जांच दल (एसआईटी) से कराने की मांग की है।


याचिकाकर्ता का कहना है कि यह कोई पहली घटना नहीं है, बल्कि केरल में ऐसी घटना पहले भी घटती रही है। मौजूदा मामले में जिस तरह गर्भवती हथिनी की पटाखे से भरे अनानास खिलाकर निर्मम हत्या की गयी, वह भयानक, दुखद, क्रूर और अमानवीय कृत्य है और शीर्ष अदालत को इसमें दखल देना चाहिए।