मुंबई : चीन से दुनियाभर में फैले वैश्विक महामारी कोरोना वायरस ने भारत में तेजी से असर दिखाना शुरू किया है। देश में कोरोना वायरस से सबसे अधिक महाराष्ट्र प्रभावित दिख रहा है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 27,524 तक पहुंच गई है।

पिछले 24 घंटों में कोरोना के नए केस ने अब तक के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक​ पिछले 24 घंटों में 1602 नए मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में अब तक 1019 लोगों की मौत हो चुकी है। मामले की गंभीरता को देखते हुए उद्धव ठाकरे सरकार ने को 31 मई तक के लिए बढ़ाने के संकेत दिए हैं।


की बैठक में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त करते हुए लॉकडाउन को 31 मई तक बढ़ाने की बात कही गई। बैठक में कहा गया कि कुछ जगहों पर छूट दी जा सकती है लेकिन मुंबई, पुणे, सोलापुर, औरंगाबाद और मालेगांव में लॉकडाउन में किसी तरह की छूट नहीं दी जाएगी। बैठक में कहा गया कि जहां भी 50 से अधिक केस हैं वहां पर किसी भी तरह की कोई छूट नहीं दी जाएगी।

बैठक में बताया गया कि ग्रीन जोन वाले इलाकों को अधिक छूट दी जा सकती है। देश में कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में से एक महाराष्ट्र के मुंबई की स्थिति और भी ज्यादा खराब हो गई है। मुंबई में पिछले 24 घंटों में 998 पॉजिटिव केस मिले हैं जबकि 25 लोगों की मौत हुई है।

मुंबई में कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़ों को देखें तो हर एक घंटे में एक मरीज की जान गई है। मुंबई में अब तक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 16,579 हो गई है जबकि 621 लोगों की जान जा चुकी है।