इलेक्ट्रिशियन ने की थी हत्या घर आने का विरोध करता था मृतक—– सीसीटीवी फुटेज से अयान के कातिल तक पहुॅची पुलिस 

संवाददाता, 7 दिन पूर्व गुम घर से लापता हुए ठाकुरगंज के मुफ्ती गंज निवासी 11 वर्षीय मासूम अयान रिज़वी को ठाकुरगंज पुलिस पुलिस ज़िन्दा तो नही बरामद कर पाई लेकिन गुमशुदगी के सातवें दिन पुलिस ने उसकी लाश ज़रूर बरामद कर ली है । मासूम अयान को उसके घर आने जाने वाले इलेक्ट्रिशियन ने मार कर महताब बाग मे बने एक अर्ध निर्मित मकान मे उसकी लाश को छुपा दिया था ।

हत्या आरोपी का मृतक के घर मे आना जाना था पुलिस ने उसे गिरफ्तार भी कर लिया है। अयान की गुमशुदगी की रिपोर्ट ठाकुरगंज थाने मे दर्ज थी और पुलिस उसे ढूढने की बात भी कह रही थी लेकिन आज उसकी लाश ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के महताब बाग मे ही मिलने से पुलिस की मुस्तैदी पर सवालिया निशान लग रहे है।

लखनऊ: ठाकुरगंज मे 7 दिन पूर्व गुम हुए अयान की मिली लाश 1
तस्वीर पर क्लिक करे – आगे पढ़े

7 दिन पूर्व गुम हुए अयान की लाश राज्य मंत्री मोहसिन रजा के मकान से कुछ दूर पर बने एक अर्ध निर्मित मकान से बरामद हुई है। 15 मई को अयान अपने घर से टियूशन पढ़ने के लिए गया था वापस नही लौटा अयान के पिता मोहम्मद वकील का पहले ही देहान्त हो चुका है अयान अपनी माॅ नजमा का एकलौता पुत्र था बच्चे की लाश मिलने की सूचना के बाद पूरे क्षेत्र मे कोहराम मच गया ।

सात दिन पूरानी लाश देख कर अयान की माॅ नजमा गश खा कर गिर पड़ी । गुमशुदगी के मुकदमे की जाॅच के दौरान पुलिस को सुनारो वाली गली मुफ्तीगंज ठाकुरगंज के रहने वाले रिंकू उर्फ समीहुल हसन पर शक हुआ तो पुलिस ने उससे पूछताछ करना शुरू कर दी पहले तो समीहुल हसन पुलिस को गुमराह करता रहा लेकिन रिंकू की बातो से पुलिस को उस पर शक हुआ और पुलिस ने जब उससे कड़ाई से पूछताछ की तो वो टूट गया उसने अयान की गला दबा कर हत्या किए जाने की बात पुलिस के सामने कुबूल करते हुए महताब बाग मे बने अर्ध निर्मित मकान से उसका शव बरामद करवा दिया। ।

गुमशुदगी के मुकदमे की विवेचना कर रहे ठाकुरगंज थाने के एसएसआई मुसाहिब हुसैन ने बताया कि अयान की हत्या करने वाले समीहुल का कहना है कि जब वो अयान के घर आता था तो अयान उसे परेशान करता था 15 मई को समीहुल अयान को पतंग दिलाने के बहाने घर के बाहर से ही लेकर गया था और उसे महताब बाग ले जाकर उसने अयान का गला दबा कर हत्या कर दी । पुलिस ने अयान के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है ।

हालाकि अयान की हत्या की वजह पुलिस जो बता रही है वो गले उतरने वाली वजह नही है ये तो जाॅच मे ही पता चलेगा कि समीहुल का मासूम अयान से क्या बैर था उसने अयान की हत्या सिर्फ अयान की शरारतो से तंग आकर की या फिर हत्या के पीछे राज़ कुछ और है।

एडीसीपी पश्चिम विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि अयान की गुमशुदगी के बाद जाॅच के दौरान सीसीटीवी फुटेज मे समीहुल हसन अयान को ले जाते देखा गया था उन्होने बताया कि जाॅच के दौरान कल एक फुटेज और मिली उसमे भी समीहुल अयान को ले जाते दिखाई दिया था सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ही समीहुल पर शक गहराया तो उससे पूछताछ मे ये खुलासा हुआ कि समीहुल ने ही अयान की हत्या की है।

विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि समीहुल का पिछले दो वर्षो से अयान के घर आना जाना था उन्होने बताया कि अयान को समीहुल का उसके घर आना जाना पसन्द नही था वो समीहुल को मना करता था इसी से नाराज़ होकर समीहुल 15 तारीख को अयान को बहाने से ले जाकर उसकी हत्या कर दी। बेगमात रायल फैमिली आफ अवध की अध्यक्ष प्रिन्सेस फरहाना मालिकी ने अयान की हत्या की घटना को ठाकुरगंज पुलिस की लापरवाही बताया है उन्होने कहा कि पुलिस अगर 15 तारीख को ही सक्रिय हो जाती तो शायद अयान की जान बच जाती ।