जयपुर : लॉक डाउन () में जिले में फंसी अजमेर के किशनगढ़ की रहने वाली वाली महिला के पैदल पैदल लौटते समय रास्ते मे रात को सामूहिक का मामला सामने आया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए सवाईमाधोपुर थाना बाटोदा पुलिस ने गांव बैरखण्डी निवासी आरोपियों  कमल (30) पुत्र रतन लाल खारवाल, लखन (20) पुत्र मोहन लाल रैगर एवं रिषिकेश (25) पुत्र मूलचन्द मीना को गिरफ्तार कर लिया।

सवाई माधोपुर एसपी सुधीर चौधरी ने बताया कि थाना किशनगढ, जिला अजमेर की रहने वाली 40 वर्षीय महिला ने शुक्रवार को थाना बाटोदा को रिपोर्ट दी, उसने बताया कि लाकडाउन (lockdown) की वजह से एक माह से सवाईमाधोपुर फंस गयी थी।

गुरुवार को सवाईमाधोपुर से जयपुर के लिए पैदल-पैदल रवाना हुई थी। रास्ता भटकने के कारण गांव बैरखण्डी पहुंच गई। रात हो जाने पर वह गांव के एक स्कूल में रुक गई। जहां रात करीब 2 बजे तीन व्यक्ति आये और उसके साथ जबरन दुष्कर्म (बलात्कार) किया। मामले को गम्भीरता से लिया जाकर थानधिकारी वाटोदा सीताराम मीना के नेतृत्व में टीम ने तीनों मुल्जिमों को गिरफ्तार कर लिया है। 

lockdown दुष्कर्म
source by : GNS

मामले का अनुसंधान सीओ बामनवास पार्थ शर्मा द्वारा शुरू किया। पीडिता  का मेडिकल मुआयना करवाकर बयान लिए गये। पीड़िता की निषादेही से घटनास्थल का निरीक्षण कर आवश्यक कार्रवाई की गई।

Infection threat in China again, lockdown in Harbin city – read more