गुजरात में पुलिस विभाग को कलंक लगाने वाली एक घटना सामने आयी है। वडोदरा शहर के गोत्री कैनाल के पास शनिवार रात को बैठे कपल को धमका कर एक पुलिस कर्मचारी ने 5 हजार रुपये लिये और युवती के साथ दुष्कर्म भी किया। आरोपी पुलिस कर्मचारी और पीसीआर वान ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है। एलआरडी (लोकरक्षकदल) पुलिस कांस्टेबल सूरज चौहान पीसीआर वान में ड्राइवर रसिक चौहान के साथ रात को ड्यूटी पर था। इस दौरान गश्त लगाते हुए वे गोत्री कैनाल के पास पहुंचे। वहां पर एक युवक और युवती बाइक पर बैठ हुए थे। पुलिस कांस्टेबल ने दोनों डरा-धमका कर पांच रुपये मांगे। परंतु इनके पास रुपये नहीं थे।
गुजरात पुलिस पर कलंक लगाने वाली घटना - कपल को धमका कर पुलिस कर्मचारी ने 5 हजार रुपये लिये और युवती के साथ किया दुष्कर्म 1

पुलिस की सख्ती और लोकलाज के डर से रुपये देने पर मजबूर हो गये। युवत युवती को वहीं छोड़ पीसीआर वैन के ड्राइवर के साथ अपनी बाइक लेकर रुपये लेने गया। इस दौरान पुलिस कांस्टेबल ने युवती को डरा-धमका उससे दुष्कर्म किया। करीब 20 मिनट के बाद दोनों रुपये लेकर वापस आये। तब तक यहां युवती के साथ दुष्कर्म हो चुका था। युवती ने युवक को पूरी आपबीती बताई। जिसके बाद मामला पुलिस थाने पहुंचा। इस घटना के बाद स्थानीय लोगो में पुलिस कर्मियों के खिलाफ रोष फैल गया हैं। लोगों के आक्रोष को देखते हुए सहायक पुलिस आयुक्त बी.ए. चौधरी ने पुलिस कांस्टेबल सूरज चौहान और ड्राइवर रसिक चौहान के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।
दुष्कर्म पीड़िता की बहन ने बताया कि उसकी बहन और उसका मित्र शनिवार रात 11 बजे गोत्री कैनाल के पास बैठे थे। उस समय पीसीआर वान में पुलिस उनके पास आयी। उसकी बहन और मित्र की बेहरमी से पीटाई भी की गई है। इतना ही पांच हजार रुपये लेने के बाद पिता को जान से मारने की धमकी देकर दुष्कर्म किया गया है। उसकी बहन की मानसिक हालत फिलहाल ठीक नहीं है। उसका अस्पताल में उपचार चल रहा है। पीड़िता की बहन ने मांग की है कि आरोपी पुलिस कर्मचारी को जल्द से जल्द फांसी दी जाये। गौरतलब है कि महिला शक्तिकरण की बाते करने वाली गुजरात सरकार ने कहा कि गुजरात में हर रोज पांच महिलाओं से दुष्कर्म होता है। अहमदाबाद और सूरत में दुष्कर्म की सबसे ज्यादा घटनाएं होती है।