गांधीनगर, 01 जून पूर्व मध्य और निकटवर्ती दक्षिण पूर्व अरब सागर में उठ रहे तूफान निसर्ग के असर से आगामी तीन और चार जून को के कई स्थानों पर भारी से अति भारी और कही कही अत्यधिक भारी वर्षा की चेताी दी गयी है।


इसके चलते आज भी सूरत, डांग, तापी, अमरेली समेत कई स्थानों पर हवा के साथ हल्की से मध्यम वर्षा हुई। तूफान के दो दिन बाद दक्षिण गुजरात के तटवर्ती इलाकों से गुजरने की संभावना के मद्देनजर इन इलाकों से लोगों का स्थानांतरण करने के निर् भी राज्य ने सबंधित जिलो को दिये हैं।


मौसम विभाग की ओर से आज जारी बुलेटिन में कहा गया है कि इसके असर से दो और तीन जून को राज्य में कई स्थानों पर गरज के साथ बूंदाबांदी तथा तेज हवाएं चलेगी जबकि तीन और चार जून को भारी से अति भारी और कही-कही अत्यधिक भारी वर्षा हो सकती है।

आज दोपहर 12 बजे यह सूरत से 850 किमी दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में स्थित था। इसके दक्षिण गुजरात तट से होकर आगामी तीन जून की दोपहर तक पार होने की संभावना जतायी गयी है।


इसके चलते तीन जून को दक्षिण गुजरात के वलसाड, नवसारी, डांग, तापी, नर्मदा, सूरत, भरूच और निकटवर्ती केंद्रशासित प्रदेश दमन, दादरा एवं नगर हवेली तथा सौराष्ट्र क्षेत्र के भावनगर और अमरेली में कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी वर्षा होगी। चार जून को डांग, तापी, नवसारी, वलसाड और दमन तथा दादरा एवं नगर हवेली में भारी से अति भारी और कभी कभी अत्यधिक भारी वर्षा होगी।

सूरत, भरूच, वडोदरा, नर्मदा और छोटा उदेपुर जिलों में कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी वर्षा होगी।
बुलेटिन में कहा गया है कि दो जून को दक्षिण गुजरात तट पर 60 किमी प्रतिघंटा की गति से हवाएं चलेंगी। यह तीन और चार जून को 110 किमी प्रति घंटे तक पहुंच जायेगी।