,11 मई वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के चुनौतीपूर्ण संकटकाल के माहौल में भी का एक परिवार रमजान की में जाने का मोह नहीं छोड़ पाया और एहतियात बरते बिना 16 सदस्यों के साथ वायरस लेकर लौटा।


दरअसल जिस इफ्तार में यह परिवार शामिल हुआ वहां उनका एक संबंधी भी आया था जो कोरोना संक्रमित रहा होगा और उसी के संपर्क में आने पर यह 16 लोग संक्रमित हुए हैं।


बहरीन के स्वास्थ्य विभाग ने शनिवार देर रात ट्वीट कर यह जानकारी दी। मंत्रालय ने कहा कि इफ्तार में शामिल इन लोगों ने वायरस से बचने के एहतियाती कदम मसलन भीड़ में शामिल होने से बचना, मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंंसिंग का पालन नहीं किया और उसका परिणाम यह हुआ कि वे वायरस लेकर घर लौटे। संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से परिवार में अभिभावक, भाई और कई बच्चे संक्रमित हो गए।


मंत्रालय ने कहा है,” संक्रमण नहीं फैले इसके लिए एक-एक व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि दिशानिर्देशों और ऐहतियाती उपायों का सख्ती से अनुपालन करे।


विभाग ने रविवार रात कहा कि वायरस के 179 नये मामले आए। इनमें से 157 अप्रवासी कामगार और 22 संक्रमितों के संपर्क मे आने से जुडे हैं।
बहरीन में कोरोना के कुल 4774 मामले आ चुके हैं,जिसमें 2055 मरीज ठीक हो गए हैं,जबकि आठ की मृत्यु हुई है।