नई दिल्ली,18 जून(वार्ता) दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या में आने वाले दिनों में तेजी से वृद्धि होने की स्थिति में मरीजों की देखभाल के लिये छतरपुर के भाटी माइंस के राधा स्वामी सत्संग ब्यास परिसर में विश्व में सबसे बड़े 10 हजार बेड के आइसोलेशन सेंटर की तैयारियां जोरों से की जा रही है।

दिल्ली सरकार ने 31 जुलाई तक राजधानी में साढ़े पांच लाख कोरोना संक्रमितों की आंशका जतायी है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस परिसर का गुरुवार को दौरा कर तैयारियों का जायजा लिया।

परिसर में तैयारियों का निरीक्षण करने के बाद श्री केजरीवाल ने मीडिया से कहा,” इस जगह को कोविड -19 मरीजों के लिए एकांतवास के रुप में परिवर्तित किया जा रहा है। यहां करीब दस हजार बेड की व्यवस्था की जा रही है।”

उपराज्यपाल अनिल बैजल भी रविवार को परिसर का निरीक्षण कर चुके हैं।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ आज की बैठक पर श्री केजरीवाल ने कहा कि उनका (श्री शाह का) ध्यान पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) को संक्रमण से बचाने पर है। एनसीआर को दिल्ली, गुरुग्राम, नोएडा और फरीदाबाद में अलग-अलग नहीं कर सकते। यह सब एक हैं।