नई दिल्ली
corona effect : सरकार ने अब बड़े पैमाने पर तैयारी शुरू कर दी है। भारत सरकार बहुत जल्द ही देश के सभी मेडिकल कॉलेजों और सरकारी लैब में कोरोना वायरस की टेस्टिंग सुविधा शुरू कर सकती है। इसके अलावा मान्यता प्राप्त निजी लैब को भी जल्द ही टेस्ट शुरू करने की अनुमति मिल सकती है। इसके लिए केंद्र सरकार ने जर्मनी से 10 लाख जांच किट मंगाने का ऑर्डर दिया है।

कोरोना वायरस की जांच के लिए ‘प्रोब’ नाम की जिस किट का इस्तेमाल किया जा रहा है। वह जर्मनी से आती है। देश में फिलहाल एक लाख टेस्टिंग किट ही उपलब्ध हैं। भारत सरकार ने 10 लाख और टेस्टिंग किट का ऑर्डर किया है।आईसीएमआर निजी कंपनियों द्वारा तैयार की जा रही देसी किट का विकल्प भी लेकर चल रहा है। केंद्र और राज्य सरकारों की तरफ से कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए तमाम उपाय अपनाए जा रहे हैंl इसके साथ ही आईसीएमआर ने कोरोना वायरस की टेस्टिंग क्षमता कई गुना बढ़ाने की दिशा में भी काम शुरू कर दिया है।