लंदन, 13 जुलाई (वार्ता) ोरोना वायरस () महामारी के कारण बढ़ती गरीबी और बजट में कटौती की वजह से इस वर्ष के अंत तक में करीब 97 लाख बच्चों को हमेशा के लिए स्कूल छोड़ना पड़ सकता है।

इंग्लैंड के लंदन स्थित धर्मार्थ संगठन ‘सेव द चिल्ड्रेन’ ने सोमवार को अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी।

‘सेव द चिल्ड्रेन’ ने अपनी वेबसाइट पर प्रकाशित रिर्पोर्ट में कहा है कि विश्व के 12 ों में कोरोना महामारी के कारण लगाये गये लॉकडाउन के समाप्त होने के बाद बड़ी संख्या में बच्चों के वापस स्कूल नहीं जाने की बहुत अधिक आशंका है।

इन 12 देशों में मुख्य रूप से पश्चिम और मध्य अफ्रीका के देश, यमन और अफगानिस्तान शामिल हैं। विश्व के अन्य 28 देशों में भी इसी तरह की आशंका है।

इस रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान समय में को रोकने के मद्देनजर लगाए गए लॉकडाउन के कारण वैश्विक स्तर पर 1.6 अरब बच्चों को स्कूल छोड़ना पड़ा है।