कोरोना
कोरोना वायरस का गढ़ रहे चीन में इस महामारी से संक्रमण के 78 नए मामले सामने आए हैं। ये सभी 78 नए मामले ऐसे हैं जो विदेशों से संक्रमण लेकर आए हैं। इस बीच स्वास्थ्य अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि कोरोना वायरस से 7 और लोगों की मौत की बाद मृतकों की संख्या 3,277 हो गई है। इन ताजा मामलों के सामने आने के बाद चीन में महामारी के दोबारा आने का खतरा बढ़ गया है।
, कोरोना से चीन में 7 और लोगों की मौत, मृतकों की संख्या 3,277 हुई
चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने मंगलवार को बताया कि चीनी मुख्यभूमि पर सोमवार तक कुल 81,171 लोग संक्रमित थे। इनमें बीमारी से मरने वाले 3,277 लोग, अभी भी इलाज करा रहे 4,735 मरीज और सेहत में सुधार होने के बाद अस्पताल से जाने दिए गए 73,159 मरीज शामिल हैं। आयोग ने बताया कि सोमवार को चीन मुख्यभूमि पर कोविड-19 के 78 नये मामले सामने आए जिनमें से 74 विदेशों से संक्रमण लेकर आए लोग हैं। ऐसे मामलों की संख्या अब 427 हो गई है। आयोग ने बताया कि सोमवार को 7 मौत और 35 नए संदिग्ध मामले भी सामने आए। ये सातों मौत हुबेई प्रांत में हुई। बीजिंग में कोरोना वायरस के कुल मामले आठ मौत के साथ 522 पर पहुंच गए हैं जिसके बाद बीजिंग और शंघाई की स्थानीय सरकारों ने विदेशों से आने वाले सभी लोगों का न्यूक्लिक एसिड परीक्षण कराने की घोषणा की है ताकि उचित जांच हो सके।
आयोग ने बताया कि विदेशों से संक्रमित होकर आए 74 नए मामलों में से 31 बीजिंग से, 14 गुआंगदोंग से, नौ शंघाई से, पांच फुजियान से, चार तियानजिन से, तीन जियांगसु से, दो झेजियांग से और एक-एक मामला शानशी, लियेओनिंग, शानदोंग और चोंगकिंग से सामने आए हैं। बीजिंग ने पहले ही सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का मार्ग परिवर्तित कर विभिन्न शहरों में भेजना शुरू कर दिया है जहां यात्रियों को शहर में आने से पहले 14 दिन अलग रहना होगा।