बीजिंग : () में एक बार फिर वायरस का खतरा मडरा रहा है। यहां बाहर से आए लोगों के जरिए संक्रमण फैल रहा है। अब यहां के उत्तर-पूर्व हेइलोंगजियांग प्रांत के शहर हार्बिन में वायरस के संक्रमण के मामले तेजी से निकलकर सामने आए हैं। 1 करोड़ की आबादी बाले हार्बिन शहर में लॉकडाउन लगा दिया गया है।

हार्बिन शहर हेइलोंगजियांग की राजधानी है। बताया जा रहा है कि यहां का एक स्टूडेंट हाल ही में न्यूयॉर्क से लौटा है। उसकी चपेट में आकर यहां 70 से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। यहां 4,000 लोगों की टेस्टिंग की गई है। संक्रमण के इतने ज्यादा मामले सामने आते ही सरकार ने पूरे शहर को सील कर दिया है।


चीन (china) का यह शहर रूस की सीमा से सटा हुआ है। अधिकारियों ने पूरे क्षेत्र में किसी भी प्रकार की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। चीन (china) के हेइलोंगजियांग में ही संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। ज्यादातर संक्रमित ऐसे चीनी नागरिक हैं, जो दूसरे देशों से आए हैं।

इससे पहले हेइलोंगजियांग प्रांत के सुइफेन्हे शहर में लॉकडाउन जैसे हालात हो गए थे। चीन (china) के हार्बिन में संक्रमण बढ़ने के मामले तब सामने आए जब सरकार ने यह बताया कि वुहान में केवल दो मरीज ही ऐसे हैं, जिनकी हालत ज्यादा खराब है। ऐसे में हार्बिन में फिर लॉकडाउन लगना चीन (china) के लिए बड़ी चिंता का मामला है। वुहान में आठ अप्रैल को ही लाकडॉउन हटाया गया है।


चीन में नए आने वाले मामलों में सबसे ज्यादा एसिम्टोमैटिक मामले हैं। ये ऐेसे मामले होते हैं, जिनमें संक्रमण के लक्षण नहीं दिखाई देते। हार्बिन में पाए गए सभी 70 संक्रमित एसिम्टोमैटिक ही थे। संक्रमितों के संपर्क में आने वाले सभी लोगों को क्वारैंटाइन कर दिया गया है।

क्वारैंटाइन किए गए सभी लोगों को तभी बाहर निकलने की अनुमति होगी, जब वे दो न्यूक्लिक टेस्ट और एक एंटीबॉडी टेस्ट पास कर लेंगे। हेइलोंगजियांग प्रांत में आने वाले सभी लोगों के लिए पहले से ही 28 दिनों के सेल्फ क्वारैंटाइन का नियम बनाया गया है।

आयुष मंत्रालय के लिए यहाँ क्लिक करे