सर चा‌र्ल्स स्पेंसर चैपलिन () को सभी चार्ली चैपलिन के नाम से ही जानते हैं। यह नाम फिल्मी दुनिया में ऐसा नाम है, जिसे पर्दे पर देखने से किसी को भी चेहरे पर हसी और मुस्कुराहट आ जाये। 16 अप्रैल, 1889 को में जन्म लेने वाले इस कॉमिक और ने सारी जिंदगी सब को हंसाने में ही गुजार दी। इन्हों ने ज्यादातर मूक फिल्मों के काम किया और वह कॉमेडी फिल्मो के बेहतरीन कलाकार थे।

charlie chaplin चार्ली चैपलिन

सारी दुनिया में मशहूर इस कलाकार ने जिंदगी की परेशानियों से भी हंसाने की कला को रुपहले पर्दे पर बखूबी निभाते और जब की दुनियाभर के लिए यही प्रेरणा बनी। सर चा‌र्ल्स स्पेंसर चैपलिन को हम सभी चार्ली चैपलिन के नाम से ज्यादा जानते हैं। सन 1940 में चार्ली (charlie chaplin) ने हिटलर पर फिल्‍म द ग्रेट डिक्टेटर बनाई । जिसमें इन्होने स्‍वयं हिटलर का किरदार किया था। और दुनिया में इस फिल्‍म के जरिए हिटलर को हसी वाले रूप में पेशकर तारीफे बटोरी थी। वेसे कुछ उनके खिलाफ aa गए थे।

google doodle

(charlie chaplin) अपने शानदार किरदार की अदाकारी के जरिए लोगों को हंसने के लिए मजबूर करने वाले चार्ली (charlie chaplin) को 1973 में अभिनय की इस दुनिया में उन्हें ऑस्‍कर अवार्ड से सन्मानित किया गया। आप को बतादे की 88 साल की उम्र में (charlie chaplin) चार्ली का 25 दिसंबर 1977 को देहावसान हो गया, जब आज सारी दुनिया कोरोना वायरस के खिलाफ एक होकर जंग लड़ रही है, तब उनका (charlie chaplin) के जीवन दर्शन और भी प्रासंगिक हो जाता है। उनके इस 131वें पर कोरोना जैसी महामारी के बीच हम भी थोडा हसे और मुश्कुराये !

government job