नई दिल्ली : केंद्रीय जांच ब्यूरो () ने कहा कि वह योग गुरु रामदेव के ब्रांड पतंजलि आयुर्वेद के नाम के कथित दुरुपयोग की जांच अपने हाथ में ले ली है।

सीबीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “एजेंसी ने नैनीताल में उत्तराखंड उच्च न्यायालय के निर्देश पर ब्रांड नाम पतंजलि आयुर्वेद के कथित दुरुपयोग और जालसाजी की जांच को अपने हाथ में ले लिया है।”


उच्च न्यायालय ने इस साल 20 फरवरी को सीबीआई जांच का आदेश देते हुए एजेंसी को वैज्ञानिक तरीके से जांच करने और अदालत के समक्ष स्थिति रिपोर्ट पेश करने के लिए कहा था।

अध्किारी ने कहा, “एजेंसी ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता और आईटी अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।” अधिकारी ने कहा कि पतंजलि आयुर्वेद ने उच्च न्यायालय से संपर्क किया था कि कुछ लोग फर्जी वेबसाइटों, ईमेल आईडी और मोबाइल फोन का उपयोग करके ब्रांड के नाम का दुरुपयोग कर रहे हैं। देहरादून की साइबर क्राइम यूनिट ने शुरुआत में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ धोखाधड़ी के तहत मामला दर्ज किया था।