,15 जून (वार्ता) केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने मेथेनॉल से बने जहरीले सेनेटाइजर बेचने और ऑनलाइन अग्रिम भुगतान घोटाले से जुड़े गिरोहों के सक्रिय होने के प्रति राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों की को अलर्ट जारी किया है।

प्रवक्ता ने सोमवार को यहां बताया कि जांच एजेंसी ने इंटरपोल से मिली जानकारी के आधार पर सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेश की पुलिस को सतर्क किया है कि कई गिरोह काफी जहरीले मेथेनॉल के इस्तेमाल से बने हैंड सेनिटाइजर बेच रहे हैं और एक अन्य गिरोह भी काम कर रहा है जो खुद को पीपीई और से जुड़ी सामग्रियों का आपूर्तिकर्ता बताता है।

सीबीआई का कहना है कि मेथेनॉल युक्त जहरीले हैंड सेनेटाइजर का उत्पादन धड़ल्ले से किया जा रहा है। अलर्ट में कहा गया है कि मेथेनॉल मानव शरीर के लिए अधिक जहरीला और खतरनाक होता है।

जांच एजेंसी के अनुसार कुछ अपराधी पीपीई किट और कोविड-19 से जुड़े उपकरणों के निर्माता के प्रतिनिधि बनकर अस्पतालों और अधिकारियों से संपर्क कर रहे हैं। इस तरह के सामान की कमी का लाभ उठाते हुए वे अधिकारियों और अस्पतालों से ऑनलाइन अग्रिम भुगतान हासिल कर लेते हैं, लेकिन पैसे लेने के बाद वे सामान की आपूर्ति नहीं करते हैं।