मुंबई 29 अप्रैल बॉलीवुड में संजीदा अभिनय के लिये मशहूर इरफान खान ने अपने जीवन के अंतिम क्षणों में अपनी मां को याद करते हुये इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

इरफान दो साल से न्यूरो इंडोक्राइन ट्यूमर जैसी खतरनाक बीमारी से जूझ रहे। यह एक प्रकार का कैंसर है जो शरीर के विभिन्न हिस्सों को प्रभावित करता है। इरफान को तबीयत बिगड़ने के बाद मंगलवार को कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनकी आंतों में संक्रमण की दिक्कत हुई थी। इरफान पिछले साल ही लंदन में इलाज करवा कर स्वदेश लौटे थे।

कुछ दिनों पहले ही इरफान की मां का देहांत हुआ था लेकिन लॉकडाउन के कारण वो उनके अंतिम दर्शन के लिए भी नहीं जा पाए थे। इरफान ने वीडियो कॉल के जरिए अपनी मां को आखिरी बार देखा था।

ऐसा बताया जाता है कि इरफान अपनी मां के बेहद करीब थे और उन्हें बहुत प्यार करते थे। उनकी मां का जाना उन्हें कहीं न कहीं बेहद दुखी कर रहा था। बताया जा रहा है कि अपने आखिरी वक्त में इरफान ने अपनी पत्नी सुतापा से कहा कि उनसे मिलने मां आई हैं। देखो वो मेरे साथ बैठीं हैं, अम्मा मुझे लेने आई हैं…इरफान की बात सुनकर उनकी पत्नी रोने लगी थीं और यही वो शब्द थे जिनके बाद इरफान इस दुनिया को अलविदा कह गये।