11 अक्टूबर ीय जनता पार्टी (भाजपा) की तेलंगाना इकाई ने रविवार को सांसद असदुद्दीन ओवैसी पर पलटवार करते हुए सवाल किया कि वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) सरसंघचालक डॉ मोहन भागवत की उस तथ्यपरक टिप्पणी पर इतना क्यों भड़क गए जिसमें कहा गया था कि भारतीय मुसलमान विश्व में किसी और जगह से सबसे ज्यादा संतुष्ट हैं।

प्रदेश के प्रवक्ता के कृष्ण सागर राव ने एक बयान में कहा, “ श्री ओवैसी के ट्वीट से स्पष्ट है कि वह भारत में मुस्लिम समुदाय की संतुष्टि और खुशियां सहन नहीं कर सकते । भारतीय मुसलमानों की भलाई और सशक्तीकरण उनकी पार्टी एमआईएम के लिए राजनीतिक फायदा नहीं देती है।”

श्री राव ने कहा कि एमआईएम का मुख्य एजेंडा भारत में मुसलमानों को भ्रमित करना है ताकि उन्हें महसूस हो सके कि वे हिंदू बहुलता के कारण हाशिए पर हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि एमआईएम, कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टियां दशकों से अपने दलगत चुनावी लाभ के लिए इस तरह के विभाजनकारी प्रचार को अपना मुद्दा बनाती है।

उन्होंने कहा कि “सब का साथ , सबका विकास” नरेंद्र मोदी का एजेंडा है और इसे सभी राष्ट्रीय योजनाओं के माध्यम से लागू किया जा रहा है तथा के मुस्लिम भी इससे लाभान्वित हो रहे हैं।