uttar pradesh news लखनऊ 07 जून ‘ सरकार‘ ने को बर्बादी के मुहाने पर खड़ा करने का आरोप लगाते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव (akhilesh yadav) ने कहा कि उनकी पार्टी के नियंत्रण के बाद भाजपा की कुनीतियों और जन समस्याओं को लेकर सड़कों पर उतरेगी।

श्री यादव (akhilesh yadav) ने रविवार को जारी बयान में कहा कि सड़क पर, ट्रेन में, शहर में, गांव में हर जगह अव्यवस्था और अराजकता के हालात हैं। समाज का हर तबका निराश और परेशान है। गरीब भुखमरी का शिकार है। मजदूरों की रोजी-रोटी छिन गई है। किसान, नौजवान की आंखों के आगे अंधेरा हैं। प्रदेश में विकास ठप्प है।

(akhilesh yadav) उन्होने कहा कि सूबे में अन्य प्रदेशों से आए श्रमिकों को रोजगार नहीं मिल रहा है। सरकार की गलत नीतियों के शिकार ये लोग सरकारी बेरूखी झेल रहे हैं। जनता के सुख-दुःख से भाजपा का कोई मतलब नहीं वह तो बस सत्ता से ही वास्ता रखती है। श्रमिक और कारोबारी तंगहाली में आत्महत्याएँ कर रहे हैं। व्यापार चौपट है। समाजवादी पार्टी वैश्विक महामारी के नियंत्रण के बाद भाजपा की कुनीतियों और जन समस्याओं को लेकर सड़कों पर उतरेगी।

श्री यादव (akhilesh yadav) ने कहा कि भाजपा सरकार में स्वास्थ्य सेवाओं की दुर्दशा की इससे ज्यादा शर्मनाक प्रमाण और क्या होगा कि नोएडा गाजियाबाद के आठ अस्पतालों में खौड़ा कालोनी की एक गर्भवती महिला प्रसव के लिए मारी-मारी फिरती रही कहीं उसे इलाज नहीं मिला। आखिरकार एम्बूलेंस में उसकी मौत हो गई। सरकार दावा करती है कि कोरोना बीमारों के लिए उसने एक लाख बेडों का इंतजाम कर रखा है तो आने वाली पीढ़ियों के लिए उसने कुछ बेड क्यों नहीं आरक्षित कर रखे है। भाजपा सरकार बताए कि उसने कितने अस्पताल बनाए हैं।