नई दिल्ली। अफगानिस्तान के काबुल {#} में हुए गुरुद्वारे पर हमले के दौरान मारे गए सरदार तायन सिंह जी के अंत्येष्टि पर नम आंखों से अपनी संवेदनाएं व्यक्त करते हुए दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि काबुल में गुरुद्वारे पर हुए हमले में हमारी कई सिख भाई बहनों की जान चली गई जिससे मैं बहुत आहत हूं।
हमारे सिख भाई बहनों के धार्मिक पूजा के स्थानों पर इस तरह के कायरतापूर्ण हमला, विशेष रूप से कोरोना वायरस {#coronavirus} महामारी के इस समय में, अपराधियों और उनके समर्थकों की शैतानी मानसिकता को दर्शाता है। ये हत्याएं उन अत्याचारों की याद दिलाती हैं जो कुछ देशों में धार्मिक अल्पसंख्यकों पर लगातार जारी हैं।
सिक्खों पर काबुल में हुआ हमला : भाजपा ने जताया दुःख 1
फाइलफोटो

तिवारी ने कहा कि काबुल में सिख समुदाय पर हुए बर्बरता पूर्ण हमले के बाद भी शाहीन बाग समर्थकों ने उन मासूमों के लिए संवेदनाएं जाहिर नहीं की। क्या शाहीन बाग समर्थक एक धर्म विशेष से ही हमदर्दी रखते हैं? क्या उन्हें सिख भाई-बहनों के दर्द का कोई एहसास नहीं? शाहीन बाग के समर्थन में चिल्ला-चिल्ला कर भाषण देने वाले उनके समर्थक आज मूकदर्शक बने हुए हैं।