नई दिल्ली। दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली विधानसभा में पेश बजट 2020-21 पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दिल्ली का बजट दिशाहीन, निराशाजनक और आंकड़ों की बाजीगरी है।

, मनोज तिवारी : दिल्ली का बजट दिशाहीन और आंकड़ों की बाजीगरी है !


दिल्ली के लोगों को बजट से बहुत उम्मीदें थी लेकिन एक बार फिर केजरीवाल सरकार ने दिल्ली के लोगों के साथ सौतेला व्यवहार किया है। पिछले वर्ष की तरह है इस बार भी दिल्ली सरकार ने दिल्ली के लोगों को बस सपने ही दिखाए गए हैं और इस बजट के माध्यम से किसी भी नई योजना को नहीं पेश किया गया है।

तिवारी ने कहा कि दिल्ली सरकार के लिए दिल्ली का विकास कभी प्राथमिकता थी ही नहीं और आज बजट पेश होने के बाद यह साबित भी हो गया है। नए स्कूल, नए कॉलेज, नए हॉस्पिटल, नई बसें, फ्री वाईफाई की बात तो दिल्ली सरकार पिछले 5 वर्षों से करती आ रही है लेकिन आज तक जमीनी स्तर पर कुछ नहीं किया गया।

दिल्ली बजट 2020-21 से यह उम्मीद थी कि जिस तरह से अपने स्वास्थ्य और सुरक्षा की परवाह किए बगैर नगर निगम कर्मचारी कोरोना महामारी के समय में दिल्ली को साफ और स्वच्छ रखने के लिए काम कर रहे हैं उसे देखते हुए दिल्ली सरकार नगर निगम को सुदृढ़ करने के लिए अधिक फंड मुहैया करवाएगी लेकिन आज उसमें भी निराशा ही हाथ लगी।