: वरिष्ठ राजनयिक अनुराग श्रीवास्तव ने सोमवार को रवीश कुमार की जगह के प्रवक्ता के तौर पर प्रभार संभाल लिया है। इससे पहले रवीश कुमार इस पद पर थ। श्रीवास्तव, 1999 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी हैं और इथियोपिया में भारत के राजदूत के रूप में सेवारत थे। पद पर नियुक्ति के साथ ही उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता के रूप में पदभार संभालने के लिए मैं इस नई भूमिका में अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए सभी के साथ मिलकर काम करने के लिए तत्पर हूं। उनकी इथोपिया में भारत में राजदूत के तौर पर तैनाती से पहले वह वित्त विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे थे।
corona news update

इससे पहले वह श्रीलंका में भारतीय उच्चायोग के राजनीति विभाग में भी काम कर चुके हैं। नई भूमिका में पद संभालने से पहले अनुराग एक्सटर्नल पब्लिसिटी डिवीजन में अंडर सेक्रेटरी रह चुके हैं। अनुराग ने अपनी शिक्षा दिल्ली यूनिवर्सिटी से पूरी की थी। श्रीवास्तव के पास इंजीनियरिंग और बिजनेस मैनेजमेंट की डिग्री है। जैसे ही उनकी पढ़ाई पूरी हुई उन्होंने कॉरपोरेट सेक्टर में अपनी सेवाएं देना शुरू कर दिया। नौकरी के साथ उन्होंने पब्लिक कमीशन की तैयारी करना शुरू कर दिया। हालांकि, उन्हें जल्द ही सफलता मिली। 1999 में वह विदेश सेवा के लिए चुने गए। इसके साथ ही यूनाइटेड किंगडम की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डिप्लोमैटिक स्टडीज में पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा किया है। जानकारी के लिए बता दें कि श्रीवास्तव इससे पहले जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के सदस्य भी रहे हैं।

नई दिल्ली विदेश मंत्रालय
वरिष्ठ राजनयिक अनुराग श्रीवास्तव ने सोमवार को रवीश कुमार की जगह विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के तौर पर प्रभार संभाल लिया है। इससे पहले रवीश कुमार इस पद पर थ। श्रीवास्तव, 1999 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी हैं और इथियोपिया में भारत के राजदूत के रूप में सेवारत थे। पद पर नियुक्ति के साथ ही उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि विदेश मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता के रूप में पदभार संभालने के लिए मैं इस नई भूमिका में अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए सभी के साथ मिलकर काम करने के लिए तत्पर हूं। उनकी इथोपिया में भारत में राजदूत के तौर पर तैनाती से पहले वह वित्त विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे थे। इससे पहले वह श्रीलंका में भारतीय उच्चायोग के राजनीति विभाग में भी काम कर चुके हैं। नई भूमिका में पद संभालने से पहले अनुराग एक्सटर्नल पब्लिसिटी डिवीजन में अंडर सेक्रेटरी रह चुके हैं। अनुराग ने अपनी शिक्षा दिल्ली यूनिवर्सिटी से पूरी की थी। श्रीवास्तव के पास इंजीनियरिंग और बिजनेस मैनेजमेंट की डिग्री है। जैसे ही उनकी पढ़ाई पूरी हुई उन्होंने कॉरपोरेट सेक्टर में अपनी सेवाएं देना शुरू कर दिया। नौकरी के साथ उन्होंने पब्लिक कमीशन की तैयारी करना शुरू कर दिया। हालांकि, उन्हें जल्द ही सफलता मिली। 1999 में वह विदेश सेवा के लिए चुने गए। इसके साथ ही यूनाइटेड किंगडम की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से डिप्लोमैटिक स्टडीज में पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा किया है। जानकारी के लिए बता दें कि श्रीवास्तव इससे पहले जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी मिशन के सदस्य भी रहे हैं।
कोरोना अमेरिका

आयुष मंत्रालय के लिए यहाँ क्लिक करे !